मथुरा कि शुंग और कुशाण कला समिक्षा

SONY DSC

Source:Wikimedia

मथुरा कि शुंग और कुशाण कला समिक्षा

भारत के प्राचीन इतिहास का एक विशेष स्थान है | मथुरा का सन्निवश यमुना के दक्षिण तट पर हुआ था प्राचीन काल से ही यह नगर भारतीय संस्कृतिक का प्रमुख केंद्र रहा है धर्म, दर्शन, कला भाषा और साहित्य के विकास में मथुरा का बहुत योगदान रहा है | पाणिनि की अष्टाध्याही में उसका उल्लेख है वाल्मीकि रामायन में मथुरा को मधुपुर का नगर कहा गया यादव प्रकाश के वैजयती कोश मे दो नाम मधुशिका और मधुपहना भी मिलते है |

Arman

Read Previous

Theye back return to you Kennedy Darlings

Read Next

बलात्कार करने के बाद घर के बाहर पम्पलेट लगाकर धमकाया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *